विराट ने खोला जिंदगी का सबसे बड़ा राज, इस बात से परेशान होकर अचानक छोड़ दी कप्तानी

विराट ने खोला जिंदगी का सबसे बड़ा राज, इस बात से परेशान होकर अचानक छोड़ दी कप्तानी

विराट कोहली के लिए इस वक्त समय कुछ ठीक नहीं चल रहा है. विराट के बल्ले से एकतरफ पिछले 2 साल से कोई शतक नहीं निकला है, इसके अलावा ये खिलाड़ी कुछ ही महीनों के भीतर तीनों फॉर्मेट में अपनी कप्तानी भी छोड़ चुका है. वहीं विराट ने पिछले साल आईपीएल टीम आरसीबी की भी कप्तानी भी छोड़ दी. लेकिन विराट ने अब आरसीबी की कप्तानी छोड़ने के पीछे एक बड़ा कारण बताया है.

विराट थे इस बात से परेशान

आईपीएल 2021 के बाद आरसीबी की कप्तानी छोड़ने वाले विराट कोहली ने कहा कि उन्होंने स्वयं के लिए कुछ समय निकालने और कार्यभार प्रबंधन के कारण यह फैसला किया. कोहली ने पहले कहा था कि टी20 विश्व कप सबसे छोटे फॉर्मेट में भारत के कप्तान के रूप में उनका आखिरी टूर्नामेंट होगा. इसके बाद उन्होंने आईपीएल की कप्तानी छोड़ने की भी घोषणा कर दी थी. इसके बाद उन्हें वनडे टीम की कप्तानी से हटा दिया गया और फिर उन्होंने टेस्ट टीम की कप्तानी भी छोड़ दी थी.

खोला सबसे बड़ा राज

कोहली ने आरसीबी की कप्तानी छोड़ने के बारे में ‘द आरसीबी पॉडकॉस्ट’ पर कहा, ‘मैं उन लोगों में शामिल नहीं हूं जो चीजों को पकड़े रखना चाहते हैं. यहां तक ​​​​कि यदि मुझे पता है कि मैं बहुत कुछ कर सकता हूं, लेकिन अगर मैं प्रक्रिया का आनंद नहीं ले रहा हूं तो फिर मैं वह काम नहीं करूंगा.’ पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा कि लोगों के लिए यह समझना बहुत मुश्किल होता है कि जब कोई क्रिकेटर इस तरह का फैसला करता है तो वह क्या सोच रहा होता है.

अपना 100वां टेस्ट खेलने की तैयारी में लगे कोहली ने कहा, ‘लोग जब तक आपकी स्थिति में न हों उनके लिए आपके फैसले को समझना बहुत मुश्किल होता है. लोगों की अपनी अपेक्षाएं होती है. वे कहते हैं ओह यह कैसे हुआ, हम हैरान हैं.’ उन्होंने कहा, ‘इसमें हैरान होने जैसी कोई बात नहीं है. मैं लोगों को समझाता हूं कि मुझे अपने लिए भी कुछ समय चाहिए और मैं कार्यभार प्रबंधन चाहता था और बात वहीं पर खत्म हो जाती है.’ आरसीबी शुरू से लेकर अभी तक कभी आईपीएल का खिताब नहीं जीत पाया.

आराम में जीना चाहते जिंदगी

कोहली ने कप्तानी छोड़ने के अपने फैसले को लेकर चल रही चर्चाओं को विराम देते हुए कहा, ‘वास्तव में ऐसा कुछ नहीं था. मैं अपनी जिंदगी को बहुत सरल तरीके से जीता हूं. जब मुझे निर्णय लेने होते हैं तो निर्णय लेता हूं और उनकी घोषणा कर देता हूं.’

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Air News अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Dhara Patel

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!