भारतीय टीम के लिए अचानक से हीरो से विलेन बना ये गेंदबाज, क्या रोहित शर्मा अब कभी नहीं देंगे इसके हाथ में गेंद?

भारतीय टीम के लिए अचानक से हीरो से विलेन बना ये गेंदबाज, क्या रोहित शर्मा अब कभी नहीं देंगे इसके हाथ में गेंद?

श्रीलंका के खिलाफ खेले गये दुसरे टी 20 मैच में भी भारतीय टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए एक बार फिर अपनी आतिशी जीत दर्ज की। और इस सीरीज में 2-0 से अपनी बढ़त बनाई। इस मैच के दौरान श्रेयस अय्यर, संजू सैमसन और रविन्द्र जडेजा ने आतिशी पारिया खेली और जीत भारत की झोली में डाली। लेकिन इस मैच के दौरान भारतीय गेंदबाजों का प्रदर्शन बेहद ही खराब रहा है। लेकिन इस मैच की जीत के बावजूद भी एक गेंदबाज भारतीय टीम के लिए विलेन साबित हो गया।

ये गेंदबाज हुआ टीम के लिए विलेन साबित

जी हां, ये गेंदबाज कोई और नहीं बल्कि हर्षल पटेल है। जिनका श्रीलंका के खिलाफ दुसरे टी 20 मैच में इतना बेहद खराब प्रदर्शन देखने को मिला की विपक्षी टीम ने जमकर रन लुटे। हर्षल पटेल ना तो विकेट ही ले पाए और नाही विपक्षी टीम के रन लेने की रफ़्तार। उल्टा अपने 4 ओवर के कोटे में हर्षल पटेल ने श्रीलंकन टीम को 52 रन और दे दिए। और केवल 1 विकेट लेने सफल हो पाए। इस तरह हर्षल पटेल भारतीय टीम के लिए काफी महंगे साबित हुए।

बल्लेबाजो ने दिलाई जीत

हालंकि भारतीय बल्लेबाजो ने कमाल का प्रदर्शन करते हुए श्रीलंकन टीम को 7 विकेट से करारी मात देते हुए, इस सीरीज पर अपना कब्जा जमा लिया। जबकि भारतीय ओपनिंग बल्लेब्बाजी भी फिलोप साबित हो गई थी, लेकिन इसके बाद श्रेयस अय्यर ने विराट कोहली जैसा दम दिखाया और टीम को इस संकट से बाहर निकाला, इस दौरान अय्यर ने 44 गेंदों में 74 रन की धमाकेदारी पारी खेली।

गेंदबाजों के खराब प्रदर्शन पर रोहित शर्मा ने लिया पक्ष

मैच जीतने के बाद जब रोहित शर्मा से खराब गेंदबाजी के बारे मे सवाल किया गया तो उन्होंने कहा ऐसी चीजे होती रहती है। हमने पहले कुछ ओवर में यानी प्लेऑफ में बेहतरीन गेंदबाजी की और विरोधी टीम के रनों पर अंकुश लगाकर रखा। लेकिन आखिर 5 ओवर में 80 रन लुटाये, निश्चित ही हमें इस बार मे कुछ सोचने की जरूरत है। रोहित ने आगे कहा की पहले 15 ओवर में पिच भी सही थी और गेंद सही आ रही थी, लेकिन ये चीजे देखने को मिलती रहती है।

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Air News अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Dhara Patel

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!