कॉन्स्टेबल के जुड़वा बेटे, एक बना SDM तो दूसरा नायब तहसीलदार; ऐसी है कहानी

कॉन्स्टेबल के जुड़वा बेटे, एक बना SDM तो दूसरा नायब तहसीलदार; ऐसी है कहानी

घर के बच्चे जब अफसर बनते हैं तो सीना गर्व से चौड़ा हो जाता है. सोचिए अगर घर में 2 बच्चे हैं और दोनों ही अफसर बन जाएं तो उस घर का माहौल ही अलग होगा. आज हम आपको एक ऐसी ही कहानी बताने जा रहे हैं .

यह कहानी यूपी पुलिस के एक सिपाही की है जिनके 2 बेटे हैं और दोनों ने ही खूब मेहनत करके अपने पिता और पूरे परिवार का नाम रोशन किया है. पढ़ाई करके एक बेटा एसडीएम बन गया है तो दूसरा बेटा नायब तहसीलदार बन गया है.

फिरोजाबाद में जसराना क्षेत्र के सिंहपुर के रहने वाले कांस्टेबल अशोक यादव उस समय मथुरा कोतवाली में तैनात थे और फैमिली आगरा में रहती है. अशोक यादव की फैमिली में उनकी पत्नी और जुड़वा बेटे मोहित यादव और रोहित यादव हैं.

यूपी पीसीएस-2019 का जब रिजल्ट आया तो घर का महौल ही बदल गया था घर में दो बेटे और दोनों अफसर बन गए. दोनों बेटों का यूपीपीसीएस में सेलेक्शन हो गया था.

कांस्टेबल के बेटे मोहित यादव का सेलेक्शन उपजिलाधिकारी और रोहित का चयन नायब तहसीलदार के लिए हुआ था. दोनों भाइयों ने जब पहली बार यूपीपीसीएस का एग्जाम दिया तो सेलेक्शन नहीं हुआ. जब दोबारा एग्जाम दिया तो दोनों का सेलेक्शन हो गया.

पढ़ाई की बात करें तो रोहित और मोहित की पढ़ाई साथ में हुई थी. पढ़ाई में दोनों अच्छे रहे हैं. शिक्षा से लेकर हर परीक्षा में दोनों भाई साथ-साथ रहे. दोनों भाईयों ने आठवीं तक की पढ़ाई देहरादून से की है.

आगरा में रहते हुए आगरा पब्लिक स्कूल से अपनी आगे की पढ़ाई पूरी की है. आगरा से ही दोनों ने 12वीं पास की. ग्रेजुएशन में दोनों ने बीटेक किया है. साल 2017 में कानपुर के एचबीटीयू से बीटेक किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!