कभी स्कूल के बाहर भजिया और चाय बेचते थे अल्ताफ, अब बने IPS ऑफिसर

कभी स्कूल के बाहर भजिया और चाय बेचते थे अल्ताफ, अब बने IPS ऑफिसर

महाराष्ट्र के पुणे जिले के बारामती तालुका के रहने वाले अल्ताफ मोहम्मद शेख को इस बार UPSC की परीक्षा में 545वां स्थान मिला है। अब वे IPS बनेंगे। फिलहाल वे बतौर इंटेलिजेंस ऑफिसर उस्मानाबाद में पोस्टेड हैं। अल्ताफ का बचपन संघर्ष में बीता है।

उनके घर की आर्थिक स्थिति काफी चिंताजनक थी, यहां तक कि खुद का खर्च निकालने के लिए उन्हें कम उम्र से ही काम करना पड़ा। वे अपने स्कूल के बाहर भजिया और चाय बेचते थे। इससे जो कुछ आमदनी हासिल होती थी, उससे उनके परिवार का खर्च चलता था। साथ ही थोड़ा बहुत जो वक्त मिलता था, उसमें अल्ताफ अपनी पढ़ाई भी करते थे।

अल्ताफ बचपन से ही पढ़ाई में टैलेंटेड थे। तमाम मुश्किलों और चुनौतियों के बाद भी उन्होंने पढ़ाई नहीं छोड़ी। इसी बीच नवोदय विद्यालय में उनका सिलेक्शन हो गया। इससे उन्हें थोड़ी रियायत मिल गई। अब पढ़ाई के लिए उन्हें भजिया बेचने से छुटकारा मिल गया। यहीं पर उनके मन में UPSC का ख्वाब जगा। वे इंडियन पुलिस सर्विसेज का सपना संजोने लगे।

यहां से पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने फूड टेक्नोलॉजी में बैचलर्स की डिग्री हासिल की। इसके बाद वे UPSC की तैयारी में जुट गए। मुश्किल डगर थी, लेकिन उन्होंने कोशिश जारी रखी। साल 2015 में UPSC की परीक्षा में उन्हें कामयाबी मिली, लेकिन मन मुताबिक रैंक नहीं मिली। चूंकि परिवार की आर्थिक स्थिति नाजुक थी, लिहाजा उन्हें नौकरी जॉइन करनी पड़ी।

लेकिन, इन सब के बीच उन्होंने अपने सपने का पीछा करना नहीं छोड़ा। वे लगातार तैयारी करते रहे। आखिरकार इस साल उन्हें कामयाबी मिल गई। इस बार उन्हें 545वीं रैंक मिली है और IPS बनने का उनका सपना साकार हो गया है। वे बारामती तालुका के पहले IPS अधिकारी बने हैं।

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Air News अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!