बिहार के इस किसान ने ढूंढी नई तकनीक, अब किसी भी मौसम में हो सकेगी मशरूम की खेती: पूरी जानकारी जानिए

बिहार के इस किसान ने ढूंढी नई तकनीक, अब किसी भी मौसम में हो सकेगी मशरूम की खेती: पूरी जानकारी जानिए

इन हाउस मशरूम फार्मिंग

आज हम आपको बिहार राज्य के गया से ताल्लुक रखने वाले किसान राकेश सिंह से रूबरू कराएंगे। जिन्होंने मशरुम की खेती के लिए गेंहू की भूसी, पुआल और एयर कंडीशनर का प्रयोग कर तकनीक को विकसित किया है। जिससे किसी भी मौसम में इन हाउस मशरूम उत्पादन किया जा सकता है।

फसल के नुकसान होने की नहीं होती शंका

वैसे तो अधिकतर मशरूम की खेती सर्दियों के मौसम होती है परंतु राकेश सिंह द्वारा किए गए विकसित तकनीक से किसान किसी भी मौसम में मशरूम की खेती कर सकता है। इस तकनीक द्वारा मशरूम की फसल के लिए आवश्यकता अनुसार तापमान प्राप्त होता है, जिससे आगे चलकर फसल नुकसान नहीं होता।

पूरे साल कमा सकते हैं लाभ

राकेश सिंह ने यह बताया कि इस खेती से किसान पूरे साल लाभ कमा सकता है। इन-हाउस मशरूम के उत्पादन का तकनीक विकसित करने का मेरा उद्देश्य यही है कि किसान को अधिक रोजगार मिल सके एवं वह अधिक लाभ कमा सके। मैंने वर्ष 2020 से मशरूम का उत्पादन प्रारंभ किया। हर रोज लगभग 200 से 300 ग्राम मशरूम अपने खेतों से प्राप्त करता हूं।

किस तरह करें इसकी खेती?

 

मशरूम की खेती प्रारंभ करने के लिए हम अपने घर से इसकी शुरुआत कर सकते हैं। जिसके लिए हमें 6 बाय 6 के स्थान की आवश्यकता है। इस बात अवश्य ही ध्यान रखना चाहिए कि वहां सूर्य की रोशनी ना जाती हो वरना पौधा नष्ट हो सकता है। इसके उपरांत हमें पानी में भीगे हुए भूसे को निर्मित करना पड़ेगा फिर उस भूसे को उचित मात्रा के अनुसार पॉलिथीन में रखकर बीज को डालकर बांध देना चाहिए ताकि उसमें हवा ना प्रवेश करें।

मशरूम हमारे शरीर के लिए बहुत ही लाभदायक है। इसमें प्रचुर मात्रा में विटामिन D मौजूद होता है। इसके अतिरिक्त इसमें सेलेनियम भी प्रचुर में पाया जाता है। यह बढ़ते हुए वजन को घटाने में भी मददगार सिद्ध होता है।

[ डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Air News अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है. ]

Dhara Patel

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Don`t copy text!