गरीबों का मेवा कही जाती है ‘मूंगफली’, खाने से पहले जान लें ये जरूरी बात; मिलेंगे जबरदस्त फायदे

गरीबों का मेवा कही जाती है ‘मूंगफली’, खाने से पहले जान लें ये जरूरी बात; मिलेंगे जबरदस्त फायदे

जिस व्यक्ति का पाचन तंत्र ठीक रहता है उसकी सेहत भी ठीक रहती है. जिनका पाचन तंत्र ठीक से काम नहीं करता है वह लोग अक्सर कई बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं. हेल्थ एक्सपर्ट भी मानते हैं कि सेहत को दुरुस्त रखने के लिए डाइजेशन का दुरुस्त होना जरूरी है.

यहां बताई जा रही है, एक चीज को अगर आप डाइट में शामिल करते हैं तो इससे डाइजेशन ठीक हो जाता है और शरीर का मेटाबॉलिज्म रेट भी बेहतर रहता है. हेल्थ एक्सर्पट्स बताते हैं कि भीगी हुई मूंगफली शरीर की कई गंभीर बीमारियों से रक्षा करती है.

मूंगफली में प्रोटीन, विटामिन, एंटीऑक्सीडेंट, कैल्शियम और फाइबर समेत कई जरूरी पोषक तत्व पाए जाते हैं. मूंगफली को डाइट में शामिल करने से कई बीमारियां अपना रास्ता बदल देती हैं.

मूंगफली खाने के फायदे

1. हेल्थ एक्सपर्ट्स बताते हैं कि महिलाओं में होने वाली टाइप टू डायबिटीज को मूंगफली खाकर कंट्रोल किया जा सकता है क्योंकि मूंगफली एक लो ग्लाइसेमिक फूड है जो डायबिटीज के खतरे को कम करता है.

इसके सेवन से शरीर का ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है और डायबिटीज से होने वाली दूसरी परेशानियां भी कम हो जाती हैं.

2. शरीर में बढ़ने वाले बैड कोलेस्ट्रॉल की वजह से हार्ट अटैक का खतरा बढ़ता है. बैड कोलेस्ट्रॉल दिल से जुड़ी कई बीमारियों के लिए जिम्मेदार होता है. यह नसों में ब्लॉकेज का खतरा पैदा करता है.

आपको बता दें कि मूंगफली के सेवन से बैड कोलेस्ट्रॉल का लेवल कंट्रोल में रहता है और हार्ट से जुड़ी समस्याएं कम हो जाती हैं.

3. आपको बता दें कि मूंगफली लगभग-लगभग बादाम के बराबर ही शरीर को फायदा देती है और बादाम की तुलना में इसकी कीमत काफी कम होती है.

इसलिए इसे ‘गरीबों का मेवा’, ‘गरीबों का बादाम’ या फिर ‘गरीबों का काजू’ कहा जाता है. हेल्थ एक्सपर्ट बताते हैं कि हमें रोज करीब 42 ग्राम मूंगफली का सेवन करना चाहिए. जरूरत से ज्यादा मूंगफली का सेवन करने से शरीर का मोटापा बढ़ने लगता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!